उत्तर प्रदेशलखनऊसमग्र समाचार

सरोजनीनगर में हुई ट्रक चालक की हत्या

खून से लथपथ मिला शव

राहुल तिवारी

लखनऊ। सरोजनीनगर में गुरुवार को एक ट्रक चालक की हत्या कर फेंका गया खून से लथपथ शव पड़ा मिला। मृतक के बाएं तरफ सिर से खून का रिसाव हो रहा था। उधर से गुजर रहे लोगों ने लावारिस हालत में शव पड़ा देख इसकी सूचना पुलिस को दी। बाद में जानकारी पाकर पहुंचे परिजनों ने उसकी पहचान की। पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

उधर इस मामले में मृतक के परिजनों ने उसके साथी ट्रक चालक पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ कर रही है। मूल रूप से प्रतापगढ़ जिले के जेठवारा थानान्तर्गत पूरे गौतम गांव निवासी व पश्चिम बंगाल में बीएसएफ में तैनात संदीप कुमार सिंह के सरोजनीनगर में कैलाश विहार – गिन्दन खेड़ा स्थित नवनिर्मित घर का गुरुवार को गृह प्रवेश था। संदीप के भाई संतोष के मुताबिक इस गृह प्रवेश समारोह में शामिल होने उसके चाचा कानपुर जिले के चकेरी थानान्तर्गत मंगला विहार कालोनी निवासी ट्रक चालक मानसिंह (52) भी एक दिन पहले मंगलवार को परिवार सहित आया था। लेकिन वह अपनी पत्नी व बच्चों को छोड़कर तुरंत कहीं वापस चला गया।

मान सिंह अगले दिन बुधवार को अपने ट्रक चालक साथी कानपुर निवासी रामचंद्र के साथ फिर गृह प्रवेश समारोह में पहुंचा। जहाँ पहुंचने के बाद दोनों ने खाना खाने के साथ ही वहीं पर शराब पी और बाद में घर से कुछ दूर खड़ी रामचंद्र की ट्रक में दोनों सोने चले गए। बुधवार सुबह संदीप के घर से करीब 200 मीटर और रामचंद्र के खड़े ट्रक से करीब 50 मीटर दूर खाली पड़े प्लाट के बाहर मानसिंह का शव पड़ा मिला। मृतक के सिर में बाएं तरफ कनपटी से काफी तेज खून का रिसाव हो रहा था और घटनास्थल के पास ही खून से सनी एक लकड़ी की बल्ली पड़ी थी। उधर से गुजर रहे लोगों ने लावारिस हालत में पड़े शव को देखकर इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की। कुछ देर में ही आसपास कॉलोनी के तमाम लोग वहां इकट्ठा हो गए। इसी बीच मानसिंह के परिजन भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने उसकी पहचान मानसिंह के रूप में की। इस मामले में मृतक के परिजनों ने मानसिंह के साथी ट्रक चालक रामचंद्र के ऊपर हत्या का आरोप लगाया है। उधर पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद ट्रक चालक रामचंद्र को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ कर रही है।

इस मामले में मृतक के भतीजे संतोष ने ट्रक चालक रामचंद्र के खिलाफ नामजद तहरीर देकर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि गृह प्रवेश समारोह में खाना खाने के बाद शराब के नशे में ट्रक पर सोने पहुंचे रामचंद्र और मानसिंह के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया और रामचंद्र ने उसके सिर पर बल्ली मारकर उसकी हत्या कर दी। घटना अंजाम देने के बाद रामचन्द्र अपना ट्रक लेकर वहां से फरार हो गया।

हालाकि पुलिस का कहना है कि आरोपी रामचंद्र को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने बताया कि रात में दोनों लोग ट्रक पर सो रहे थे। इसी बीच मानसिंह लघुशंका के लिए ट्रक से नीचे चला गया। काफी देर तक ना लौटने पर रामचंद्र ने मानसिंह को कई बार फोन किया। लेकिन उसका फोन नहीं रिसीव हुआ। जिसके बाद रामचंद्र अपना ट्रक लेकर बाजार खाला इलाके में सामान लादने चला गया। लेकिन शुरुआती जांच पड़ताल में घटना का संदेह रामचंद्र के ऊपर ही जा रहा है और उससे पूछताछ जारी है। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। मृतक के परिवार में उसकी पत्नी संजू के अलावा दो बेटी कोमल व शीतल और एक बेटा अंश है।

Related Articles

Back to top button
Close