उत्तर प्रदेशजरूर पढ़ेंब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराज्यलखनऊविचार / लेखसमग्र समाचार

गुणवत्ता के साथ समयावधि में पूर्ण किए जाए कार्य-डीएम

जिलाधिकारी ने की पेयजल एवं स्वच्छता समिति की समीक्षा बैठक

सीतापुर। जिला पेयजल एवं स्वच्छता समिति की समीक्षा बैठक जिलाधिकारी अनुज सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जल जीवन मिशन के अन्तर्गत संचालित योजनाओं की समीक्षा की। अधिशासी अभियन्ता जल निगम द्वारा डीपीआर से संबंधित रिपोर्ट प्रस्तुत न कर पाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये निर्देश दिये कि डीपीआर की अद्यतन आख्या प्रस्तुत की जाये। उन्होंने कड़े निर्देश दिये कि कार्यों को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समयावधि में पूर्ण किया जाये। पुरानी टंकियों की मरम्मत आवश्यक रूप से कराने के साथ निर्देश दिये कि चारों ओर बनायी जाने वाली बाउन्ड्रीवाल की मजबूती का विशेष ध्यान रखा जाये। यदि बाउन्ड्रीवाल कमजोर होने के कारण क्षतिग्रस्त होती है तो जिम्मेदारी का निर्धारण करते हुये कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिये कि गांवों में परियोजना के निर्माण के लिये आरसीसी रोड कटिंग का कार्य मशीनों के माध्यम से ही कराया जाये। क्षतिग्रस्त रोड को ठीक कराने का कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ संबंधित संस्था द्वारा शीघ्र करा दिया जाये। उन्होंने कहा कि जो भूमि आवंटित हो गयी हैं उनको बार-बार बदला न जाये। जिन ग्राम पंचायतों में भूमि संबंधित कोई परेशनी आ रही हो उनके आस-पास की भूमि को चिन्हित करते हुये वहां पर कार्य प्रारम्भ करा दिया जाये तथा जिन परियोजनाओं में कार्य होना हो उसकी भी शुरूआत कर दी जाये। उन्होंने कहा कि जो भी ग्राम पंचायतों में कार्य होने है उनकी सूची डीपीआरओ से प्राप्त कर लें। उन्होंने कहा कि यदि डीपीआर तैयार करने में कोई परेशानी आ रही है, तो ज्यादा टीमें लगाकर कार्य पूर्ण किया जाये।

उन्होंने मशीनों की उपलब्धता व किन-किन मशीनों में खराबी है उसकी जानकारी ली। कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जहां पर भूमि की उपलब्धता है वहां पर बोरिंग का कार्य प्रारम्भ करा दें ताकि लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके। पानी की गुणवत्ता को अवश्य चेक कर लें ताकि लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सके। बैठक के दौरान सीडीओ अक्षत वर्मा,डीडीओ राकेश कुमार पाण्डेय, डीपीआरओ मनोज कुमार, अधिशासी अभियन्ता जल निगम सहित सभी कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि व संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
Close