अन्यउत्तर प्रदेशचुनावजरूर पढ़ेंभविष्य के नेताराजनीतिराज्य

प्रदेश की 100 सीटों पर ब्राह्मणों को चुनाव लड़वायेगी समान अधिकार पार्टी

चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशियों को आर्थिक मदद देने की भी हुई घोषणा

राहुल तिवारी

लखनऊ। समान अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलदीप शर्मा के निर्देश पर समान अधिकार पार्टी  के प्रदेश अध्यक्ष सुशील शुक्ला ने गुरुवार को 403 सीटों में से 100 सीटों पर ब्राह्मणों को टिकट देने की घोषणा की। राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देशानुसार 100 सीटों पर चुनाव लड़ने वाले ब्राह्मणों को पार्टी आर्थिक मदद भी देगी।

समान अधिकार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों और सवर्णों की जिस प्रकार से उपेक्षा हुई है सबसे ज्यादा एनकाउंटर और हत्याएं हुई हैं इससे ब्राह्मण समाज भारतीय जनता पार्टी से पूरी तरह से नाराज है और विकल्प की तलाश में हैं। वह कांग्रेस, सपा ,बसपा भाजपा के शासनकाल को भी देख चुका है जहां ब्राह्मणों की उपेक्षा की गई, इन पार्टियों की कथनी और करनी में फर्क है।

चुनाव से पूर्व यह ब्राह्मणों का वोट लेते हैं और चुनाव के पश्चात खुले मंच से इनका काम ना करने का वक्तव्य जारी करते हैं। केंद्र सरकार द्वारा जातिगत आरक्षण को पुनः 10 वर्ष तक बढ़ाने एवं एससी एसटी एक्ट को और कठोर कर बिना जांच गिरफ्तारी के आदेश और सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों को पलटते हुए सदन में पारित अध्यादेश के माध्यम से कानून पास कर सवर्णों के साथ दोयम दर्जे के किए गए बर्ताव पर भारतीय जनता पार्टी को आड़े हाथों लिया और कहा कि उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों को, सवर्णों को जातिगत आरक्षण एससी एसटी एक्ट जैसे काले कानून को समाप्त कर सभी को आर्थिक आधार पर समान अधिकार देने का काम समान अधिकार पार्टी करेगी ।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा की सवर्णों का ध्यान हटाने के लिए सरकार प्रचार प्रसार में पैसा पानी की तरह बहा रही है जिससे लोगों का ध्यान वास्तविक मुद्दों से हटकर हिंदुत्व के उस मुद्दे पर आ जाए जिससे आसानी से भाजपा चुनाव जीतना चाहती है किंतु उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा के हिंदुत्व में तो सवर्ण आता ही नहीं यदि उनके हिंदुत्व में सवर्ण आता तो वह इस दोयम दर्जे का कानून पास कर सवर्णों के साथ इस प्रकार का बर्ताव कभी ना करती।

आगामी विधानसभा चुनाव में 403 सीटों पर समान अधिकार पार्टी प्रत्याशियों को लड़ाएगी जिसमें से 100 सीटें ब्राह्मणों के लिए आरक्षित होंगी। पार्टी ऐसे प्रत्याशियों को आर्थिक रूप से मदद कर चुनाव लड़ाने का काम करेगी।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा समान अधिकार पार्टी के चुने हुए प्रतिनिधि सदन में समाज के हक और अधिकार की लड़ाई लड़ने का काम करेंगे जिससे प्रदेश और देश का समुचित विकास हो जातियों का भेद समाप्त हो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग संपन्नता की ओर आगे बढ़े और राष्ट्र के विकास में सहायक बने।

Related Articles

Back to top button
Close