उत्तर प्रदेशखेती किसानीभविष्य के नेता

अजबापुर चीनी मिल ने महिला समूह का किया सम्मान, प्रदेश रत्न गौरव गुप्ता ने महिला समूहों को उद्यमिता के विकल्प सुझाये

मोहम्मदी खीरी: जिले की अग्रणी चीनी मिल अजबापुर शुगर लिमिटेड गन्ने के क्षेत्र में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रयासरत है इसी कड़ी में गन्ने की उन्नत पैदावार के लिए सिंगल चिप विधि से पौध तैयार करने वाली महिलाओं के स्वयं सहायता समूह मोनिका प्रेरणा स्वयं सहायता समूह को सेनेटरी पैड वेंडिंग मशीन और कार्यस्थल पर स्वच्छ जल पूर्ति हेतु वाटर फिल्टर देकर पुरुस्कृत किया। चीनी मिल के प्रतिनिधि अनिल सिंह ने बताया की जल्दी ही समूह को सेनेटरी पैड बनाने की मशीन चीनी मिल की तरफ से उपलब्ध कराई जाएगी जिससे समूह की महिलाएं आत्मनिर्भर हो सके। इस कार्यक्रम में ग्रामीण संसाधनों के आधार पर उद्यमिता सृजन हेतु कार्य कर रहे उत्तर प्रदेश रत्न इंजीनियर गौरव कुमार गुप्ता ने महिलाओं के समूह को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई सुझाव दिए। उन्होंने बताया गांव की महिलाएं कंप्यूटर के माध्यम से हस्तकला के क्षेत्र में और जैविक उत्पादों के निर्माण/विपणन में अहम भूमिका निभा सकती हैं विश्व बैंक की योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत बने समूह ग्राम स्तर पर जन सेवा केंद्र खोलकर वैश्विक बाजार से जुड़ सकते हैं। जन सेवा केंद्र के माध्यम से ग्रामीण अपनी रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए आधार कार्ड से पैसों का लेनदेन जाति आय निवास प्रमाण पत्र और खेती किसानी के सभी पंजीकरण कर सकते हैं।ब्लाक के ग्राम सर्वांगपुर में हुए इस कार्यक्रम में गांव की महिलाओं, पूर्व ग्राम प्रधान व गांव के उन्नतशील किसान अजय पांडे सहित दर्जनों किसान मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button
Close