उत्तर प्रदेशलखनऊसमग्र समाचार

दुर्गाष्टमी के दिन भक्तों ने किया महागौरी का किया पूजन अर्चन

महमूदाबाद/सीतापुर। शारदीय नवरात्र के पावन मौके पर भक्तों ने दुर्गाष्टमी के दिन देवी भगवती के महागौरी स्वरूप का विधि-विधान से पूजन-अर्चन किया गया। नगर के प्रसिद्ध संकटा देवी मंदिर पर हजारों भक्तों की भीड़ जुटी। भक्तों ने मुंडन, बेटियों की दिखाई जैसे मांगलिक कार्य सम्पन्न कराते हुए संकटा मां के दर्शन किए और मनौती का प्रसाद चढ़ाया।

शारदीय नवरात्र के अवसर पर क्षेत्र के हरदियापुरवा स्थित कालिका देवी मंदिर पर 15 दिवसीय मेले का आयोजन चल रहा है। क्षेत्रभर के दर्जनों स्थानों पर दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित हैं, जहां सुबह-शाम भक्तों की भारी भीड़ जुटती है। हजारों लोग पूरे नवरात्र का उपवास करते हैं। देवी मंदिरों पर सुबह चार बजे से ही भक्तों की भीड़ जुटनी शुरू हो जाती है। दुर्गाष्टमी के दिन क्षेत्रभर से आए सैकड़ौं परिवारों ने अपने पाल्यों का संकटा देवी मंदिर में मुंडन संस्कार सम्पन्न कराया। संकटा देवी मंदिर में कई जनपदों सहित क्षेत्रों से हजारों भक्तों के आगमन से मंदिर परिसर में पूरे दिन मेले सा दृश्य रहा।

शारदीय नवरात्र के अवसर पर तहसील क्षेत्र के दर्जनों स्थानों पर मां दुर्गा एवं गणेश जी, कार्तिकेय, सरस्वती जी, लक्ष्मी जी की सुंदर मूर्तियां स्थापित की गईं हैं। क्षेत्र की विभिन्न दुर्गा पूजन समारोह समितियों से जुड़े लोग पूजा पण्डालों में विधिवत वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मूर्तियों की स्थापना कर पूजन-अर्चन कर रहे हैं। क्षेत्र भर में स्थापित देवी पांडालों में धार्मिक व सास्कृतिक कार्यक्रमों कर धूम रही।

सोमवार को पूरे दिन भोर से ही महामाई के भक्तों का मां संकटा देवी के दरबार में तांता लगा रहा

श्री श्री सर्वजनिन दुर्गोत्सव में महाअष्टमी पूजा संपन्न
सीतापुर। शहर में श्री श्री सर्वजनिन दुर्गाेत्सव में महाअष्ठमी पूजा बड़ी धूम धाम से मनाया गया। कमेटी की ओर से पूजा का सिलसिला सुबह से ही विधी विधान से शुरू किया गया। पुरोहित दुर्गा पदों चक्रवर्ती ने महाअष्ठमी पूजा, पुष्पांजलि, सन्धि पूजा पूर्ण किया। इसके बाद मां का भोग लगाकर प्रसाद वितरण किया गया। या देवी सर्वभूतेषु शक्ति-रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम मंत्रो उच्चारण से पूरा आंख अस्पताल परिसर गूंज रहा था। चारो तरफ भक्ति मई वातावरण के साथ महाष्ठमी पूजा में मां के श्रृंगार के साथ धुप, नैवेध, सिंदूर, पुष्प, फल, इत्यादि वस्तुओ से श्रदलुओं ने अपनी पूजा प्राम्भ की। इसके बाद व्रत धारण किये हुए श्रद्धालुओं ने मां को पुष्पांजलि अर्पित की। मां के भोग व प्रसाद वितरण का सिलसिला दोपहर तक चलता रहा।

सायकाल की बेला में माँ दुर्गा की आरती पुरोहित दुर्गा पदों चक्रवर्ती ने पंचमुखी दीपक, कपूर से भरा दीपक, धूपची, जल से भरा हुआ शंख, तौलिया, हाथ वाला पंखा, रेशे वाला पंखा, पान व सुपाड़ी से आरती की। तत्पश्चात मां को हलुवा, नारियल व विभिन्न प्रकार के लड्डुओं का भोग लगाकर श्रदालुओ को वितरण किया गया। पूजन में मुख्य रूप से एन एन चटर्जी, रंजीत दास, संजीव दास, आकाश राय, विश्वजीत पोले, एस के दत्ता, डॉ प्रदीप राय, पंकज मुखर्जी, पीके राय, देवेन्द्र विश्वास, दीपक विश्वास, निमिष दास, आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
Close