उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन के नारे को पलीता लगा रही है बंथरा पुलिस

IMG-20210131-WA0013-780x405
  • अवैध खनन सहित अन्य अवैध कार्यों को कराने में लिप्त है पुलिस

राहुल तिवारी

लखनऊ 22 अप्रैल । प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जहां भ्रष्टाचार को लेकर कठोर रुख अपनाए हुए हैं वहीं राजधानी लखनऊ के अंतर्गत बंथरा थाने की पुलिस अवैध कार्य कराकर धन उगाही में व्यस्त है , थाना प्रभारी अपने मातहतों को अवैध धन उगाही के लिए निर्देशित करते रहते हैं और उनके मातहत अवैध कार्य करने वाले कारोबारियों से सांठगांठ करके धड़ल्ले से दिन-रात अवैध खनन सहित तमाम प्रकार के कार्य करके पुलिस को पैसा पहुंचा रहे हैं ।

बंथरा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बेंती में दिन रात अवैध खनन का कार्य पुलिस के संरक्षण में चल रहा है, इसके अलावा अवैध तारकोल, अवैध डीजल – पेट्रोल व मिट्टी का तेल टैंकरों से उतारने का काम अवैध कारोबारियों द्वारा किया जा रहा है, इन कारोबारियों को बंथरा थाने की पुलिस का पूरा संरक्षण प्राप्त है, यदि कोई व्यक्ति तथा पत्रकार इनके विरुद्ध खबरें प्रकाशित करता है तो थाना प्रभारी उसको धमकाने का प्रयास करते हैं जिससे कि वह उनके काले कारनामों का पर्दाफाश न कर सके ।

बताते हैं कि पूर्व में एक मशीन द्वारा रात में अवैध खनन करने पर पूरी रात का ₹15000 स्थानीय पुलिस द्वारा वसूला जाता था लेकिन जब से यह नए थाना प्रभारी आए हैं तब से इसका रात भर का शुल्क ₹35000 प्रति रात कर दिया गया है वास्तव में जब एक मशीन का प्रत्येक रात ₹35000 वसूला जाता है ऐसे में थाना क्षेत्र में लगभग एक दर्जन गांव में अवैध खनन का कार्य किया जाता है इस प्रकार थानाध्यक्ष लाखों रुपए प्रतिदिन अवैध रूप से वसूली का कारोबार कर रहे हैं ।

पुलिस की अंधेर गर्दी कहे या फिर पुलिस की गुंडागर्दी  कहें कि उसको केवल और केवल धन वसूली से मतलब है जनता से उसका कोई सरोकार नहीं है पीड़ित लोग थाने के चक्कर काटते रहते हैं उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी जाती है। रिपोर्ट लिख भी ली गई तो उस पर कोई कार्यवाही नहीं की जाती है पुलिस पीड़ित से सौदा करने में व्यस्त रहती है यदि पीड़ित से सौदा नहीं हुआ तो उसके विपक्षी से सौदा करके उनके अनुसार रिपोर्ट लगाने का कार्य किया जाता है , वास्तविकता यह है कि आज यदि कोई भी पीड़ित व्यक्ति बंथरा थाने पहुंच जाए तो उसकी रिपोर्ट बिना सुविधा शुल्क के बिना चढ़ावे के नहीं लिखी जाएगी, यदि उसने क्षेत्रीय विधायक और सांसद से सिफारिश कराने का प्रयास किया तो उसको भी उल्टा सीधा सुनाया जाता है काम तो बड़ी दूर की बात है ।

इसी थाना क्षेत्र के बेंती गांव में दिन रात अवैध खनन चल रहा है, जबकि यह गांव देश के रक्षा मंत्री एवं लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह के द्वारा गोद लिया गया गांव है जहां लोगों का मानना है।

देश के ऐसे ईमानदार राजनेता का नाम जिस गांव से जुड़ा हो वहां पर पुलिस द्वारा अवैध कार्य करवाना और धन उगाही करना अत्यंत खेद का विषय है , इस बेंती गांव के लोग जहां राजनाथ सिंह के गोद लेने से अपने को गौरवान्वित समझते हैं। वही पुलिस के इस प्रकार के कृत्य से क्षेत्रीय लोग शर्मसार हो रहे हैं लेकिन पुलिस है कि उसे सामाजिक सरोकार से कोई मतलब नहीं उसे केवल धन उगाही करने का ही मात्र उद्देश्य है।

ग्रामीणों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं पुलिस आयुक्त लखनऊ से बंथरा पुलिस के भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने की मांग की है तथा थाना क्षेत्र में हो रहे अवैध खनन को बंद कराने की मांग की है, वास्तव में अवैध खनन से सरकार को करोड़ों रुपए की राजस्व की हानि  हो चुकी है और अवैध खनन होने से आगे भी राजस्व की हानि होना निश्चित है, लेकिन पुलिस के लोग मालामाल हो रहे हैं ।

बंथरा पुलिस की कारगुजारी से लखनऊ के ईमानदार एवं कर्मठ पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर के प्रयासों को पूरी तरह से पलीता लगाने के कार्य थाना प्रभारी बंथरा कर रहे हैं ।

Related Articles

Back to top button
Close